संदेश इंडिया में आपका स्वागत है आप देख रहे है संदेश इंडिया 24x7 न्यूज़ चैनल.... आप संदेश इंडिया को www.sandeshindia.com पर लाइव देख सकते है । आप फेसबुक , यूट्यूब , ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते है । लाइव , डीलाइव , रिकॉर्डिंग , विज्ञापन , कथा - भगवत , व अन्य प्रोग्राम के लिये संपर्क करें - 9456800620 .... संदेश इंडिया को आवश्यकता है संवाददाता , कैमरामैन , मार्केटिंग मैनेजर की । आप हमें ईमेल करें - sandeshindiatv@gmail.com पर ....

नाराज कुमार विश्वास को साथ ले गए केजरीवाल, बोले- उम्मीद है मना लेंगे

आम आदमी पार्टी में कुमार विश्वास को मनाने की कोशिशें तेज हो गई है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल मनीष सिसोदिया के साथ विश्वास को मनाने उनके घर पहुंचे. मुलाकात के बाद केजरीवाल उनको लेकर निकल गए. माना जा रहा है कि तीनों नेता दिल्ली के मुख्यमंत्री के आवास पर जा रहे हैं. इससे पहले गाजियाबाद में हुई मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत में दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि कुमार विश्वास को मना लेंगे.

अपने अगले निर्णय के लिए आज रात की डेडलाइन देने वाले विश्वास को मनाने के लिए इससे पहले कपिल मिश्रा, कालका से विधायक अवतार सिंह उनके आवास पर पहुंचे, जबकि आशुतोष और संजय सिंह बहुत पहले से ही वहां मौजूद हैं.

इस बीच पार्टी से बागी विधायक देवेंद्र सहरावत भी कुमार विश्वास से मिलने पहुंचे थे, लेकिन कुमार विश्वास ने उनसे मिलने से इंकार कर दिया. इससे पहले आशुतोष और संजय सिंह विश्वास के आवास पर उनसे मिलने पहुंचे.

इस बीच कुमार विश्वास के समर्थकों के उनके घर के सामने नारेबाजी करते हुए अमानतुल्लाह के खिलाफ कार्रवाई को लेकर गेट पर धरना शुरू कर दिया. कुमार के घर के बाहर समर्थकों का ड्रामा जारी है.

विश्वास पर लगाए गए आरोपों को पर उनके समर्थक सहमत नहीं है. समर्थकों के मुताबिक पार्टी का शीर्ष नेतृत्व कार्यकर्ताओं को नजरअंदाज कर रहा है.

दो धड़ों में बंटते दिख रहे AAP विधायक!
कुमार विश्वास और अमानतुल्लाह खान की बयानबाज़ी से परेशान अरविंद केजरीवाल एक तरफ नाराज़गी जता रहे हैं तो इसी बयानबाज़ी के बाद पार्टी के कई विधायक दो अलग-अलग खेमे में बंटते नज़र आ रहे हैं.

अमानतुल्लाह खान के कुमार विश्वास के खिलाफ दिए बयान पर बुलाई गई पॉलिटिकल अफेयर कमिटी की बैठक से पहले और बाद में, आम आदमी पार्टी विधायकों की खेमेबाजी साफ नजर आ रही है. सोमवार की दोपहर जब अरविंद केजरीवाल, सिसोदिया से मुलाक़ात करके लौटे तो कई विधायक पार्टी नेता आशुतोष से मुलाक़ात करने पहुंचे. इस दौरान गोपाल राय, राजेश गुप्ता, नरेश यादव, जितेंद्र सिंह तोमर, मदनलाल, सौरभ भारद्वाज, जरनैल सिंह, शरद चौहान शामिल रहे.

दरअसल पार्टी नेताओं के साथ विधायकों की लगातार बैठक केजरीवाल का मजबूत समर्थन कर रहे उन विधायकों का मन टटोलने की एक बड़ी कोशिश है. पूरे विवाद के बीच केजरीवाल खेमे के संजीव झा पहले ही ट्वीट करके अपने मुखिया का समर्थन जता चुके हैं. सोमवार की सुबह भी मनीष सिसोदिया, सत्येंद्र जैन संजीव झा, राजेश गुप्ता, नरेश बाल्यान, बंदना कुमारी, श्रीदत्त शर्मा, जितेंद्र तोमर अरविंद केजरीवाल के घर मुलाक़ात के लिए पहुँचे थे.

थमा नहीं विश्वास से मिलने वाले विधायकों को सिलसिला
अब बात करें कुमार विश्वास की तो वसुन्धरा में उनके घर पर भी सोमवार देर रात तक कई विधायकों का आना जाना लगा रहा. इनमें कपिल मिश्रा, अलका लांबा, बंदना कुमारी, राजेश गुप्ता, भावना गौड़, राजेश ऋषि, रामनिवास गोयल जैसे नाम शामिल हैं, लेकिन अमानतुल्लाह खान के पॉलिटकल अफेयर कमिटी से इस्तीफा देने के बाद भी विधायकों के कुमार विश्वास से मुलाक़ात करने का सिलसिला थम नहीं रहा है. मंगलवार की सुबह भी विधायक अखिलेशपति त्रिपाठी, राजू धिंगान, मनोज कुमार कुमार विश्वास से मिलने आ चुके हैं.

कुमार विश्वास ने लड़ाई को पर्सनल बना दियाः सिसोदिया
कुमार विश्वास के बयान पर पलटवार करते हुए मनीष सिसोदिया ने कहा कि कुमार विश्वास को किसी ने माफी मांगने के लिए नहीं कहा. पार्टी मेरी, अरविन्द या कुमार की नहीं है बल्कि देश विदेश में बैठे लाखों कार्यकर्ताओं की है, इसे व्यक्तिगत लड़ाई नहीं बनाना चाहिए.

विश्वास पर लगाया बयानबाजी का आरोप
मनीष सिसोदिया ने कहा कुमार विश्वास को कई बार बुलाने के बावजूद वो पीएसी की बैठक में नहीं आए. टीवी पर बयानबाजी करते हैं, जिससे कार्यकर्ता का मनोबल टूटता है. बयानबाजी से किस पार्टी को फायदा हो रहा है ये कार्यकर्ता भी समझ रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *